Breaking News

Top News

वोरा के समझाने पर बगावत की राह से वापस लौटे कुणाल, निर्दलीय चुनाव न लड़ने का फैसला किया

Share Now

दुर्ग। एनएसयूआई के पूर्व शहर अध्यक्ष कुणाल तिवारी ने कांग्रेस से बगावत न करने का फैसला किया है। टिकट न मिलने का संकेत मिलने के बाद कुणाल ने वार्ड 53 से पार्षद चुनाव लड़ने नामांकन फार्म खरीद लिया था। उनके समर्थकों ने आज रैली निकालकर दमखम से नामांकन जमा करने की तैयारी कर ली थी। आज उन्होंने विधायक अरूण वोरा की समझाईश पर नामांकन दाखिल न करने का फैसला किया। कुणाल ने कहा कि वे और उनका परिवार का हर सदस्य शुरू से कांग्रेस का समर्थक रहा हैं।

कुणाल ने बताया कि शुरू से वोरा परिवार से उनके परिवार का आत्मीय संबंध रहा है। वे किसी भी सूरत में वोरा परिवार से अलग नहीं जाएंगे। टिकट न मिलने का संकेत मिलने के बाद उन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ने का फैसला कर लिया था। विधायक अरूण वोरा से चर्चा और उनकी समझाईश के बाद चुनाव लड़ने का फैसला बदल लिया है। वे अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के प्रशासनिक महासचिव मोतीलाल वोरा के मार्गदर्शन और विधायक अरूण वोरा के नेतृत्व में कांग्रेस के पक्ष में चुनाव प्रचार करेंगे। किसी भी हाल में वे कांग्रेस नहीं छोड़ेंगे।