Breaking News

Top News

नागरिकता कानून के विरोध में भिलाई में संविधान बचाओ रैली, सीएम ने मोदी सरकार पर किए करारे प्रहार

Share Now

सीजी न्यूज डॉट कॉम

सीएए और एनआरसी के विरोध में आज भिलाई में संविधान बचाओ रैली रैली में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मोदी सरकार पर करारे प्रहार किए। बघेल ने कहा कि इस कानून से देश में संविधान के मूल ढांचे को कुचला जा रहा है। देश के लोगों से उनके नागरिक होने का सबूत मांगने का यह कानून किसी को भी मान्य नहीं है। पूरे देश में इस कानून का कड़ा विरोध हो रहा है। मोदी सरकार इस कानून को तत्काल वापस ले। बघेल ने साफ कहा कि आर्थिक मंदी, महंगाई, बेरोजगारी जैसे मुद्दों से ध्यान हटाने के लिए सीएए और एनआरसी जैसा कानून लाया गया है।

सीएम ने कहा कि मोदी सरकार सीएए और एनआरसी का विरोध करने वालों के आंदोलन को कुचलने का प्रयास कर रही है। वे इस कानून का कड़ा विरोध करते हैं। एनआरसी को छत्तीसगढ़ में लागू नहीं किया जाएगा। रैली में गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, कृषि मंत्री रविंद्र चौबे, वन मंत्री मोहम्मद अकबर, विधायक सत्यनारायण शर्मा, अरूण वोरा, देवेंद्र यादव सहित हजारों की तादाद में दुर्ग, भिलाई व आसपास के इलाकों के नागरिक शामिल हुए। रैली सेक्टर 7 से शुरू हुई और सिविक सेंटर में समाप्त हो गई।

रैली में विशाल जन सैलाब उमड़ा। संविधान बचाओ रैली का आयोजन संविधान बचाओ समिति ने किया था। इस दौरान समिति के पदाधिकारियों के अलावा पूर्व विधायक बीडी कुरैशी, भजन सिंह निरंकारी, प्रतिमा चंद्राकर, रायपुर के महापौर प्रमोद दुबे, शंकर लाल ताम्रकार, सीजू एंथोनी, अब्दुल गनी, ग्रामीण कांग्रेस अध्यक्ष तुलसी साहू, शहर कांग्रेस अध्यक्ष आरएन वर्मा, हमीद खोखर, अय्यूब खान, नीता लोधी, रज्जन अकील खान, सुभद्रा सिंह, नीलेश चौबे सहित बड़ी तादाद में कांग्रेस नेता और अलग अलग समाजों के पदाधिकारी, नागरिक मौजूद थे।