Breaking News

Top News

पानी टंकी निर्माण शुरू कराने वोरा बस्तीवासियों के साथ पैदल पहुंचे, भूमिपूजन के बाद महापौर की मौजूदगी में कहा शहर की सरकार कर रही है लेटलतीफी

Share Now

सीजी न्यूज रिपोर्टर

अमृत मिशन प्रोजेक्ट के तहत मिलपारा में पानी टंकी की निर्माण का काम डेढ साल से पेंडिंग रहने पर वार्ड के नागरिक नगर निगम कार्यालय पहुंच गए। निगम प्रशासन पर लेटलतीफी पर नागरिकों ने आक्रोश जताया। नागरिकों ने विधायक अरूण वोरा को फोन पर जानकारी देते हुए बताया कि नगर निगम भेदभाव करते हुए स्थल परिवर्तन करने का प्रयास कर रहा है। बाद में निगम कार्यालय पहुंचने पर नागरिकों ने विधायक से पानी टंकी का निर्माण शुरू कराने भूमिपूजन करने की मांग की।

नागरिकों की मांग पर वोरा उनके साथ पैदल चलकर प्रस्तावित स्थल पर पानी टंकी निर्माण स्थल पर पहुंचे। महापौर चंद्रिका चंद्राकर भी उनके साथ पैदल चलकर भूमिपूजन स्थल तक गई। यहां विधायक और महापौर ने भूमिपूजन किया। भूमिपूजन के बाद वोरा ने नगर निगम को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि भाजपा सरकार ने विकास कार्यों को लेकर भेदभाव किया। शहर की सरकार की हठधर्मिता से यह प्रोजेक्ट लटका है। 18 माह बीतने के बाद भी मिलपारा में अमृत मिशन योजना से जल संकट दूर करने ओवरहेड टंकी का निर्माण शुरू नहीं किया गया।

 

इधर महापौर का कहना है कि अमृत मिशन योजना के अंतर्गत 143 करोड़ की लागत से 5 नई टंकियों का निर्माण करना है जिसमें से पुलगांव, करहीडीह, हनुमान नगर और पुराना नलघर में पानी टंकियों का निर्माण चल रहा है। मिलपारा गंजमण्डी के पास पानी टंकी निर्माण का काम विरोध के कारण रोक दिया गया था। इसके बाद शनीचरी बाजार स्थित पुराने लोक कर्म विभाग कार्यालय स्थल में पानी टंकी निर्माण पर विचार किया जा रहा था। पानी की समस्या को देखते हुए मीलपारा क्षेत्रवासियों ने उसी जगह पर पानी टंकी बनाने की मांग की। जनता की मांग पर भूमिपूजन किया गया।

भूमिपूजन के दौरान निगम कमिश्नर सुनील अग्रहरि, सभापति राजकुमार नारायणी, राजेन्द्र साहू, राजेश शर्मा, राकेश शर्मा, वार्ड पार्षद आशीष दुबे, दिनेश देवांगन,  देवनारायण चंद्राकर, सुरेंद्र राजपूत, भोला महोबिया, दीपक साहू, ज्ञानदास बंजारे, संदीप वोरा, अंशुल पांडेय, कुणाल तिवारी, हेमू तिवारी, शैलेष शर्मा सहित सैकड़ों लोग मौजूद थे।