Breaking News

Top News

पुलिस परिवार के छात्र-छात्राओं को मिलेगी डीजीपी मेरिट स्कॉलरशिप

Share Now

पुलिस परिवार के मेधावी छात्रों को डीजीपी मेरिट स्कॉलरशिप दी जाएगी। 10 वीं बोर्ड परीक्षा में 85 प्रतिशत या इससे ज्यादा अंक पाने वाले छात्र-छात्राओं को 1500 रुपए से 2000 तक प्रतिमाह स्कॉलरशिप मिलेगी। कक्षा 12वीं में 80 प्रतिशत या इससे ज्यादा अंक प्राप्त करने पर स्नातक स्तर की शिक्षा के लिए 3000 रुपए प्रतिमाह और स्नातकोत्तर शिक्षा प्राप्त करने भारत के किसी भी प्रतिष्ठित संस्थान में पढ़ाई करने पर 5 हजार रुपए प्रतिमाह छात्रवृत्ति दी जाएगी।

पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी की अध्यक्षता में छत्तीसगढ़ पुलिस केन्द्रीय कल्याण समिति और संयुक्त परामर्शदात्री समिति की बैठक में यह फैसला किया गया। पुलिस ट्रांजिस्ट मेस स्थित सभाकक्ष में हुई बैठक में राज्य के सभी पुलिस इकाइयों से आने वाले परामर्शदात्री समिति के सदस्य उपस्थित थे। बैठक को संबोधित करते हुए पुलिस महानिदेशक ने कहा कि वर्तमान समय में पुलिस की नौकरी तभी सार्थक होगी जब पुलिस कर्मचारी-अधिकारियों के सेवानिवृत्त होने के पहले उनके बच्चे उच्च स्तर की शिक्षा हासिल कर लें।

उन्होंने कहा कि पुलिस परिवार का उत्थान और विकास पर विचार किया जाना चाहिए। राज्य पुलिस के सभी अधिकारी-कर्मचारियों को समान रूप से पदोन्नति अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अशोक जुनेजा की अध्यक्षता में एसओपी तैयार करने समिति का गठन कर दिया गया है। इससे सभी पुलिस अधिकारी-कर्मचारियों को पदोन्नति का समान अवसर मिलेगा।

बैठक में पुलिस परिवारों के मेधावी छात्रों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने न्यूनतम ब्याज दर पर पुलिस कर्मचारियों को ऋण उपलब्ध कराने का प्रस्ताव पारित किया गया। संकट निधि में अधिकारी-कर्मचारी को पूरे सेवाकाल में डेढ़-डेढ़ लाख रूपए दो बार सहायता राशि मिल सकेगी। हरेक जिला मुख्यालय पर पुलिस ट्रांजिट मेस तैयार करने का प्रस्ताव भी पारित किया गया। बैठक में वेतन भत्ता, आवास भत्ता, यात्रा भत्ता, चिकित्सा भत्ता जैसे प्रस्तावों पर शासन स्तर पर निर्णय लेने पुलिस मुख्यालय से प्रस्ताव भेजने का निर्णय लिया गया।

बैठक में विशेष पुलिस महानिदेशक संजय पिल्लै, आरके विज, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक पवन देव, अशोक जुनेजा पुलिस महानिरीक्षक दीपांशु काबरा, रायपुर रेंज के आईजी आनंद छाबड़ा, उप पुलिस महानिरीक्षक आरएस नायक,  एचआर मनहर, डॉ संजीव शुक्ला, पी सुंदरराज सहित पुलिस मुख्यालय के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।