Breaking News

Top News

नवा रायपुर में नहीं बन पाए सीएम, मंत्रियों और विधायकों के आवास, मुख्यमंत्री ने एक साल में प्रोजेक्ट पूरा करने कहा, पार्क, सिनेमाघर, मार्केट भी बनेंगे  

Share Now

DCFAF9BD05FA190B3CF73F3254A1FF20

सीजी न्यूज रिपोर्टर

नवा रायपुर अटल नगर में नई राजधानी विकसित करने का काम 15 साल पहले शुरू होने के बावजूद अभी तक वहां  मुख्यमंत्री निवास, मंत्रियों और विधायकों के निवास का निर्माण शुरू नहीं हुआ है। नई राजधानी में मंत्रालय, संचालनालय सहित हाउसिंग बोर्ड की एक आवासीय कॉलोनी और अन्य विभागों के मुख्यालय भवन तैयार हो चुके हैं। लेकिन गवर्नर हाउस, सीएम हाउस सहित मंत्रियों, विधायकों और अफसरों के आवासों का निर्माण नहीं किया गया। हाल ये है कि अब तक डीपीआर भी तैयार नहीं किया जा सका है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज नवा रायपुर विकास प्राधिकरण के अफसरों को तत्काल डीपीआर तैयार करने के निर्देश दिए।

केबिनेट के 4 वरिष्ठ मंत्रियों के साथ नवा रायपुर पहुंचे सीएम ने अफसरों से प्रस्तावित निर्माण स्थल का निरीक्षण किया और प्रोजेक्ट के बारे में विस्तार से जानकारी ली। यहां के सेक्टर 24 मंे मुख्यमंत्री निवास, मिंत्रयों के आवास, विधायक विश्राम गृह और अधिकारियों के आवास के लिए प्रस्तावित स्थल का निरीक्षण किया। आवास एवं पर्यावरण मंत्री मोहम्मद अकबर, गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू, कृषि एवं जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे और राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल के अलावा मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव गौरव द्विवेदी निरीक्षण के दौरान मौजूद थे। प्राधिकरण के मुख्य कार्यपालन अधिकारी नीलम एक्का ने मुख्यमंत्री को सेक्टर 24 में प्रस्तावित निर्माण कार्यों के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

मुख्यमंत्री ने इन आवासों के नजदीक मिंत्रयों के स्टाफ के लिए ट्रांजिट हास्टल बनाने के निर्देश भी दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि निर्माण कार्य एक साल के भीतर पूर्ण करने के लिए समयबद्ध कार्ययोजना तैयार करें। आवासों के नजदीक जरूरी जन सुविधाओं के लिए पास में मार्केट विकसित करने और मनोरंजन के लिए पार्क, सिनेमाघर बनाने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री ने कहा कि नवा रायपुर अटल नगर में मुख्यमंत्री, मंत्रियों और विधायकों के आवास निर्माण से यहां बसाहट बढ़ेगी और रायपुर शहर में ट्रैफिक का दबाव कम करने में मदद मिलेगी।