Breaking News

Top News

ड्यूटी से गायब थे स्वच्छता निरीक्षक, सफाई सुपरवाइजर, कामगार … कमिश्नर ने जारी कर दिया कड़ा फरमान, अब हर घंटे निष्ठा एप में देना होगा ड्यूटी स्थल पर रहने की जानकारी

Share Now

सीजी न्यूज रिपोर्टर। दुर्ग

निगम कमिश्नर इंद्रजीत बर्मन ने आज रायपुर नाका क्षेत्र में सफाई व्यवस्था का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्हें सुबह 11 बजे सफाई कामगार, स्वच्छता निरीक्षक और सफाई सुपरवाइजर नजर नहीं आए। स्थानीय नागरिकों ने  बताया कि 10.30 बजे काम करने के बाद सब चले जाते हैं। 1.30 बजे से 2 बजे के बीच हिजरी देने वापस लौटते हैं। इस अव्यवस्था से नाराज कमिश्नर ने कड़ा फरमान जारी किया है। स्वच्छता निरीक्षक, सुपरवाइजर, कामगार और सफाई दरोगा को हर घंटे निष्ठा एप पर कार्यस्थल की जानकारी देना होगा।

शहर की सफाई व्यवस्था से असंतुष्ट कमिश्नर ने कहा कि सुबह 6 बजे से दोपहर 2 बजे के बीच सफाई व्यवस्था से जुड़े मैदानी अमले को अपने कार्य स्थल की जानकारी एप में देना होगा। उन्होंने कहा दुर्ग शहर में इतने ज्यादा सफाई कामगार होने के बावजूद शहर की सफाई व्यवस्था ठीक नहीं हैं। निर्देशों का पालन न करने और लापरवाही से काम करने वाले स्वच्छता निरीक्षकों, सफाई सुपरवाइजरों, कामगारों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

कमिश्नर ने शासन से अधिकृत निष्ठा एप एजेंसी को दुर्ग बुलाकर स्वास्थ्य अधिकारी के साथ निष्ठा एप में दी जा रही सेवाओं की जानकारी ली। कमिश्नर ने एजेंसी से कहा एप में ऐसी सुविधा दें जिससे यह जाना जा सके कि कौन से कर्मचारी कितने समय तक कहां अपनी सेवाएं दे रहे हैं। स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया सभी कामगारों को सुबह 6 बजे से दोपहर 2 बजे तक अपने वार्ड क्षेत्र में ड्यूटी करना है। कमिश्नर ने कहा उन्होंने अभी तक तीन-चार वार्डो का निरीक्षण किया गया लेकिन इन वार्डो में सफाई व्यवस्था संतोषजनक नहीं मिली।

स्वास्थ्य विभाग के स्टाफ की लिस्ट मंगाई

कमिश्नर ने स्वास्थ्य विभाग के सभी अधिकारियों, कर्मचारियों और कामगारों की लिस्ट मंगाई है। लिस्ट का परीक्षण करते हुए इन व्यवस्थाओं को लागू करने के बाद वार्ड निवासियों और वार्ड जनप्रतिनिधियों से फीडबेक लिया जाएगा।  इससे सही स्थिति का पता लगाया जा सकेगा।