Breaking News

Top News

दुर्ग में गौठान का काम अधूरा छोड़ निगम अफसरों ने लगा दिया ताला, हफ्ते भर में निर्माण पूरा करने विधायक ने दिया अल्टीमेटम

Share Now

IMG-20190816-WA0005.jpg

सीजी न्यूज रिपोर्टर। दुर्ग

छत्तीसगढ़ सरकार की महत्वाकांक्षी नरवा-गरवा-घुरूवा-बारी योजना के अंतर्गत गौठान बनाने की योजना का काम आधा अधूरा छोड़ दिया गया। शासन के आदेश पर पुलगांव स्थित गोकुल नगर में दुर्ग नगर निगम ने तेजी से काम शुरू किया। कुछ दिनों तक काम जारी रखने के बाद निर्माण कार्य अधूरा छोड़कर बंद कर दिया गया है। प्रदेश में लगभग सभी जगहों पर सुंदर और व्यवस्थित गौठानों का लोकार्पण हरेली त्योहार के दिन कर दिया गया, लेकिन दुर्ग शहर का गौठान आज तक अधूरा है। निगम प्रशासन ने यहां काम बंद कर ताला लगा दिया है।

IMG-20190816-WA0004-641368679-1565959876713.jpg

गौठान का निरीक्षण करने पहुंचे विधायक अरुण वोरा ने काम बंद कर ताला लगाने पर नाराजगी जताई है। वोरा ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पशुधन संरक्षण के लिए गौठान निर्माण का काम प्राथमिकता से पूरा करने कहा है। दुर्ग में शहरी गौठान निर्माण के लिए 96 लाख रुपए की स्वीकृति दी गई। गौठान का निर्माण 4 स्थानों पर किया जाना है। हाल ये है कि पहले गौठान का निर्माण ही पूरा नहीं हुआ। नगर निगम प्रशासन ने पहले ही सैकड़ों विकास कार्यों को शुरू नहीं कर पाई है। निगम की लचर व्यवस्था और लापरवाह कार्यप्रणाली के कारण जनहित से जुड़े कार्यों को लेटलतीफी से शुरू किया जाता है। काम अधूरा छोड़ दिया जाता है।

वोरा ने कहा कि मवेशियों के लिए हरे चारा की व्यवस्था करने कृषि विभाग से बीज मिले थे। देखरेख न होने के कारण यह काम भी नहीं हो पाया। मुख्यमंत्री की मंशा के अनुरूप अब तक गौठान का लोकार्पण हो जाना था लेकिन गौठान अधूरा होने के कारण आवारा मवेशी सड़कों पर घूम रहे हैं और आए दिन दुर्घटनाएं हो रही हैं। आम जनता के साथ पशुधन को भी नुकसान हो रहा है। शासन की महत्वपूर्ण योजना में ऐसी लापरवाही दुर्भाग्यजनक है।

वोरा ने अफसरों को जवाबतलब किया, एक हफ्ते का अल्टीमेटम दिया

गौठान निर्माण में हुई लेटलतीफी को लेकर वोरा ने निगम के कार्यपालन अभियंता मोहन पुरी गोस्वामी को जवाबतलब किया। वोरा ने गौठान निर्माण कार्य पूरा करने एक सप्ताह का अल्टीमेटम देते कहा कि यहां मवेशियों को रखने की व्यवस्था शुरू करें, ताकि पशुधन का संरक्षण हो सके। गौठान के निरीक्षण के दौरान वरिष्ठ पार्षद राजेश शर्मा, नंदू महोबिया, अंशुल पांडेय, कुणाल तिवारी, गुरदीप भाटिया, संदीप वोरा, सुमित शर्मा मौजूद थे।