Breaking News

Top News

वार्डों में गंदगी देख निगम कमिश्नर ने स्वच्छता निरीक्षक, दरोगा सहित 4 सफाई सुपरवाइजरों को थमाया शोकाज नोटिस, एक दिन का वेतन भी काटा, कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी   

Share Now

13 Aug Comisner Ispection ward 47 (4)

निगम कमिश्नर इंद्रजीत बर्मन शहर की सफाई व्यवस्था दुरुस्त करने रोज कई वार्डों में आकस्मिक निरीक्षण कर रहे हैं। वायशेप ओवरब्रिज के नीचे गंदगी का नजारा देख कमिश्नर ने नाराजगी जताई।

सीजी न्यूज रिपोर्टर। दुर्ग

शहर की सफाई व्यवस्था में लापरवाही बरतने पर निगम कमिश्नर इंद्रजीत बर्मन ने मुख्य स्वच्छता निरीक्षक जसवीर सिंह भुपाल व 5 अन्य कर्मचारियों को शोकाज नोटिस जारी की है। नोटिस का जवाब 3 दिनों के भीतर मांगा गया है। संतोषजनक जवाब न मिलने पर अनुशासनात्क कार्यवाही की जाएगी। भुपाल के अलावा सफाई दरोगा सुरेश भारती, सफाई सुपरवाइजर आशीष बघेल, राजेश गुप्ता, आर कोड़रैया और संतोष गाड़ा को नोटिस जारी करने के साथ एक-एक दिन का वेतन काटने के निर्देश भी दिए गए हैं।
निगम कमिश्नर इंद्रजीत बर्मन ने 16 अगस्त से स्वास्थ्य विभाग के सभी अधिकारी-कर्मचिरयों को निष्ठा एप में अपने अपने कार्यस्थल पर ड्यूटी करते हुए हर घंटे उपस्थिति दर्ज कराने के आदेश जारी किए थे। शुक्रवार को निगम कमिश्नर ने शहर के कई वार्डों की सफाई का आकस्मिक निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान जगह-जगह कचरे के ढेर और गंदगी देखकर कमिश्नर ने नाराजगी जताई। कमिश्नर ने सुबह 6 बजे से दोपहर 1 बजे तक पूरे 8 घंटे तक सफाई कार्य से जुड़े सभी अधिकारी, कर्मचारियों को ईमानदारी से करने सख्त निर्देश दिए हैं।

उन्होंने कहा कि स्वच्छता निरीक्षक, दरोगा, सफाई सुपरवाइजरों के निर्देशन में वार्डो की सफाई व्यवस्था दुरुस्त होना है। इसी कार्य के लिए उन्हें वेतन मिलता है। सफाई न होने से स्पष्ट है कि उन्होंने अपने कार्य को पूरी जिम्मेदारी से नहीं किया। ड्यूटी में लापरवाही के कारण 16 अगस्त का वेतन काटा गया है। नोटिस का जवाब न मिलने पर स्वच्छता निरीक्षक, सफाई दरोगा के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जाएगी और चारों सफाई सुपरवाइजरों की सेवा समाप्त करने की कार्रवाई की जाएगी।