Breaking News

Top News

आरक्षण बढ़ाकर एहसान नहीं किया, छत्तीसगढ़ की सबसे बड़ी समस्या नक्सली नहीं बल्कि कुपोषण – सीएम

Share Now

D19CF95BFD07589CB0518B9078F254EC.jpg

  • संविधान के दायरे में रहकर बढ़ाया आरक्षण, 82 प्रतिशत आरक्षण देने वाला देश का पहला राज्य बना राज्य 
  • छत्तीसगढ़िया सर्व समाज महासंघ ने मुख्यमंत्री का किया अभिनंदन
  • बलौदाबाजार में निकली आभार अभिनंदन रैली निकालकर कई समाजों ने किया स्वागत
  • 102 करोड़ के विकास कार्यों का लोकार्पण, भूमिपूजन किया

सीजी न्यूज रिपोर्टर

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज कहा कि ओबीसी और अनुसूचित जाति का आरक्षण बढ़ाकर कोई एहसान नहीं किया है बल्कि इन वर्गों को उनका संविधान प्रदत्त अधिकार दिया है। छत्तीसगढ़ में आरक्षण का प्रतिशत अब 82 प्रतिशत हो गया है। छत्तीसगढ़ अब देश में सबसे ज्यादा आरक्षण देने वाला राज्य है। इससे वंचित समाज मजबूत होगा। मुख्यमंत्री बलौदाबाजार के दशहरा मैदान में 102 करोड़ रूपये से अधिक के विकास कार्यों का लोकार्पण-भूमिपजून करने के बाद अभिनंदन एवं आभार समारोह को सम्बोधित कर रहे थे।

समारोह में आरक्षण की सीमा ओबीसी वर्ग के लिए 14 प्रतिशत से बढ़ाकर 27 प्रतिशत और अनुसूचित जाति का 12 प्रतिशत से बढ़ाकर 13 प्रतिशत करने पर छत्तीसगढ़िया सर्व समाज महासंघ ने मुख्यमंत्री का सम्मान और आभार व्यक्त किया। स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री और जिले के प्रभारी मंत्री टीएस सिंहदेव, नगरीय प्रशासन एवं विकास मंत्री डॉ. शिव डहरिया, विधायक शकुन्तला साहू, चन्द्रदेव राय, प्रमोद शर्मा, नगरपालिका अध्यक्ष विक्रम पटेल, पूर्व सांसद सोहन पोटाई, पूर्व विधायक जनकराम वर्मा सहित सर्व छत्तीसगढ़िया समाज के अध्यक्ष व पदाधिकारी मौजूद थे।

71F8CA63C63D8B638D988042752A2F2E.jpg
समारोह में मुख्यमंत्री ने कहा कि 2021 की जनगणना में अनुसूचित जाति की जनसंख्या के अनुसार आरक्षण दिया जाएगा। फिलहाल वर्ष 2011 की जनगणना में 13 प्रतिशत आबादी है। संविधान के अनुरूप काम करते हुए हमने 10 प्रतिशत आरक्षण गरीब सवर्ण को भी दिया है। छत्तीसगढ़ की सबसे बड़ी समस्या नक्सली नहीं बल्कि कुपोषण है। 37.5 प्रतिशत बच्चे कुपोषित और 41.5 प्रतिशत महिलाओं में खून की कमी है। इसे दूर करने 2 अक्टूबर से सुपोषित छत्तीसगढ़ अभियान शुरू किया जाएगा।                                                                                         समारोह को पूर्व सांसद सोहन पोटाई और पूर्व विधायक जनकराम वर्मा ने भी सम्बोधित किया। सभा के पहले मुख्यमंत्री ने राज्य की विकास यात्रा को दिखाती प्रदर्शनी का अवलोकन किया। योजनाओं के अंतर्गत हितग्राहियों को सामग्री व चेक वितरित किये। महिला एवं बाल विकास विभाग की महिला समूहों द्वारा छत्तीसगढ़ी व्यंजन प्रतियोगिता के विजेता समूहों को पुरस्कार वितरित किया।                                                            छत्तीसगढ़िया सर्व समाज ने मुख्यमंत्री का अभिनंदन किया                                                                      इससे पहले मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के बलौदाबाजार पहुंचने पर कई सामाजिक संगठनों ने स्वागत किया। इन संगठनों ने मुख्यमंत्री के प्रति आभार जताने आभार रैली का आयोजन किया था। मुख्यमंत्री का स्वागत छत्तीसगढ़िया सर्व समाज, सतनामी समाज, कुर्मी समाज, सोनकर समाज, साहू समाज, यादव समाज, आदिवासी समाज, पाल-पटेल समाज, सोनी-केशरवानी समाज, मुस्लिम समाज, सिक्ख समाज, मसीह समाज, किसान संगठन, चेम्बर ऑफ कॉमर्स, पेंशनर्स और गायत्री परिवार ने अभूतपूर्व स्वागत किया।
मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल बलौदाबाजार में दी 102.13 करोड़ के विकास कार्यों की सौगात                        मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में 102 करोड़ 13 लाख रूपये के 73 विकास कार्यों की सौगात दी। समारोह में 76 करोड़ 8 लाख रूपये के 38 विकास कार्यों का लोकार्पण और लगभग 26 करोड रूपये की लागत के 35 निर्माण कार्यों का भूमिपूजन किया। मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम में राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं के अंतर्गत हितग्राहियों को सामग्री और चेक वितरण भी किया।