Breaking News

Top News

कृषि मंत्री के कड़े तेवर, 3 अफसरों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही करने दिए निर्देश, 2 शिक्षक सस्पेंड

Share Now

ravindra_choubey_4486376_835x547-m-312083320-1568305776437.jpg

सीजी न्यूज रिपोर्टर

प्रदेश के कृषि व जलसंसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे ने बेमेतरा प्रवास के दौरान कलेक्टोरेट सभाकक्ष में जिला स्तरीय समीक्षा बैठक में कई अधिकारियों, कर्मचारियों के विरुद्ध कार्रवाई करने के निर्देश दिए। बैठक में सहकारिता विभाग के उप पंजीयक के जवाब से असंतुष्ट कृषि मंत्री ने उनके विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही करने के निर्देश दिए। अनियमितता के कारण ग्रामीण यांत्रिकी सेवा बेरला के एसडीओ आरके गंजीर के खिलाफ कार्यवाही करने कहा। पीएचई की कार्यपालन अभियंता (प्रोजेक्ट) आशा लता गुप्ता के बैठक में अनुपस्थित रहने पर उन्हें शोकॉज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए।

कैबिनेट मंत्री ने छग सिविल सेवा आचरण अधिनियम के उल्लंघन के मामले में जिले के दो शिक्षकों को निलंबित करने के निर्देश दिए। इनमें से एक शिक्षक आशुतोष पांडेय शासकीय स्कूल मोहरेंगा में पदस्थ है और दूसरा शिक्षक विरेन्द्र टंडन, शासकीय स्कूल आनंदगांव में कार्यरत है। उनका स्थानांतरण शासकीय स्कूल बटार में किया गया है। भारमुक्त होने के बाद भी नवीन पदस्थापना स्थल में कार्यभार ग्रहण न करने और विद्यार्थियों को बरगलाने और आनंद गांव स्कूल में तालाबंद करने का आरोप होने के कारण सस्पेंड करने के निर्देश दिए गए।

बैठक में शिवनाथ नदी इंटेकवेल से बेमेतरा जिले के लगभग 97 गावों में मीठा पानी सप्लाई करने की योजना की समीक्षा नहीं हो पाई। पीएचई विभाग की ईई आशालता गुप्ता बैठक में अनुपस्थित रही। उन्होंने अपना प्रतिनिधि भी नहीं भेजा। इसके कारण उनके विभाग की समीक्षा नहीं हो पाई। इसे गंभीरता से लेते हुए केबिनेट मंत्री ने आशालता गुप्ता को सस्पेंड करने के निर्देश दिए। बेमेतरा के विधायक आशीष छाबड़ा ने बैठक में रवेली गांव में सीसी रोड निर्माण में लापरवाही बरतने की जानकारी दी। इस शिकायत के बाद आरईएस के एसडीओ आरके गंजीर के खिलाफ कार्रवाई की गई।

कृषि मंत्री ने वन विभाग के जिम्मेदार अधिकारी के उपस्थित न रहने पर भी नाराजगी जताई। धान उपार्जन के लिए किसानों के पंजीयन की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि इस काम में किसानों को किसी प्रकार की असुविधा का सामना न करना पड़े। बैठक में बेमेतरा के विधायक आशीष छाबड़ा, नवागढ़ विधायक गुरूदयाल सिंह बंजारे, जिला पंचायत अध्यक्ष कविता साहू, कलेक्टर शिखा राजपूत तिवारी, पुलिस अधीक्षक प्रशांत ठाकुर, जिला पंचायत के सीईओ प्रकाश कुमार सर्वे सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।