Breaking News

Top News

प्राइमरी हेल्थ सेंटरों का निरीक्षण करेंगे जिला पंचायत स्वास्थ्य समिति के सदस्य, पहली बैठक में दर्जन भर प्रस्ताव पारित  

Share Now

जिले के ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य सुविधाओं का विस्तार और सेवाओं को दुरुस्त करना पहली प्राथमिकता – जयंत

244.jpg

जिला पंचायत दुर्ग के स्वास्थ्य व महिला एवं बाल विकास समिति की बैठक में ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य सेवाओं के विस्तार और स्वास्थ्य सेवाएं बेहतर बनाने कई फैसले लिए गए। समिति के सभापति जयंत देशमुख ने कहा कि सरकारी अस्पतालों का निरीक्षण किया जाएगा। ग्रमीणों को बेहतर मेडिकल सेवा उपलब्ध कराने की पहल की जाएगी।

जिला स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में हुई बैठक की अध्यक्षता करते हुए जयंत ने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के साथ ही ज्यादा से ज्यादा प्राइवेट अस्पतालों में स्मार्ट कार्ड के उपयोग से लोगों को इलाज सुविधा दिलाने का प्रयास किया जाएगा।

बैठक में समिति ने दर्जन भर प्रस्तावों पर चर्चा हुई।  10 बिस्तर या इससे ज्यादा बेड वाले सभी निजी अस्पतालों में स्मार्ट कार्ड की सुविधा लागू करने और डायग्नोस्टिक्स (एक्सरे, सिटी स्कैन) के लिए जिला अस्पताल में स्मार्ट कार्ड की सुविधा लागू करने विचार विमर्श किया गया। बैठक में समिति के सदस्य मुकेश बेलचंदन, प्रेम सागर चतुर्वेदी, अमिता बंजारे भी उपस्थित थे।
दुर्ग डाटा सेंटर में आयुष्मान भारत योजना के कार्ड बनाने, स्मार्ट कार्ड बनाने की सुविधा दोबारा शुरू करने और जिला अस्पताल में सुरक्षा के लिए जिला पुलिस अधीक्षक को पत्र जारी करने पर विस्तार से चर्चा की गई। भिलाई 3 के प्राइवेट स्कूल सनशाइन में स्मार्ट कार्ड के प्रयोग के बाद भी हितग्राही से 35 हजार रुपए की अवैध वसूली की शिकायत पर कार्यवाही करने का प्रस्ताव पारित किया गया।

समिति ने 2 अक्टूबर को महात्मा गांधी जी की 150 वीं जयंती पर जिला अस्पताल में सुबह 9 बजे सफाई अभियान के तहत जिला चिकित्सालय परिसर में साफ सफाई और फल वितरण करने का फैसला किया। समिति के सदस्य शासकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों का निरीक्षण करेंगे। ग्रामीण इलाकों में स्वास्थ्य सेवाएं बेहतर की जाएगी। इनका विस्तार किया जाएगा।