Breaking News

रबर ट्यूब से पाइपलाइन लीकेज की मरम्मत की शिकायत गलत निकली, कमिश्नर ने गड्‌ढा खोदकर कराई जांच

शिकायतकर्ता की मौजूदगी में हुुई जांच में पता चला कि रबर ट्यूब से नहीं बल्कि मैकेनिकल ज्वाइंट से जोड़ी गई है पाइपलाइन  

903.jpg

अमृत मिशन योजना के तहत पद्मनाभपुर वार्ड 45 में 350 एमएम डाया के पाइप लाईन में लिकेज की मरमम्त रबर ट्यूब से किये जाने की सूचना गलत निकली। निगम अफसरों ने आज शिकायतकर्ता की मौजूदगी में जलकार्य प्रभारी देवनारायण चंद्राकार, वार्ड पार्षद राजेश शर्मा और निगम अफसरों की मौजूदगी में दोबारा खोदाई की और पाइपलाइन लीकेज की जांच की। कमिश्नर इंद्रजीत बर्मन के निर्देश पर मरम्मत की जांच के दौरान पता चला कि रबर ट्यूब से लीकेज की मरम्मत नहीं की गई है। पाइपलाइन को रबर ट्यूब से बांधने की शिकायत गलत पाई गई।
वार्ड पार्षद राजेश शर्मा ने बताया कि उनके वार्ड में अमृत मिशन के अंतर्गत बिछाई गई 350 एमएम डाया की पाइप लाइन में लीकेज हुआ था। आसपास के लोगों ने देखा कि पाइपलाइन को रबर से बांधा जा रहा है। वार्डवासियों ने इसकी वीडियो बनाया जिसके आधार पर शिकायत की गई। इसी शिकायत के बाद निगम कमिश्नर ने गड्ढे को दोबारा खोदकर लीकेज मरम्मत की जांच कराई, जिसमें मेकेनिकल ज्वाइंट से पाइप लाइन जोड़ने का पता चला। वहां मौजूद शिकायतकर्ता ने बताया कि उसे गलतफहमी हो गई। टेकनिकल पाइंट मालूम न होने के कारण शिकायत की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

स्टीकर लगे फलों की बिक्री, स्टोरेज पर प्रतिबंध

खाद्य एवं औषधि प्रशासन विभाग ने राज्य में स्टीकर लगे फलों की बिक्री पर प्रतिबंध ...