Breaking News

Top News

दो साल से ज्यादा समय से पेंडिंग राजस्व मामलों में तहसीलदारों को शो काज नोटिस

Share Now

कलेक्टर कांफ्रेंस में कमिश्नर ने एक हफ्ते के भीतर सभी प्रकरण निबटाने के निर्देश दिए

111

संभागायुक्त दिलीप वासनीकर ने आज दो साल से ज्यादा समय से राजस्व प्रकरणों का निबटारा न करने वाले तहसीलदारों को शोकाज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए हैं। हिंदी भवन में संभागीय स्तर पर समीक्षा करते हुए संभागायुक्त ने सीधे सवाल किया कि राजस्व प्रकरण को निबटाने में क्या परेशानी आ रही है। किसी भी तरह की तकनीकी समस्या आने पर उच्चाधिकारियों को अवगत कराने के निर्देश दिए। मानव संसाधन या अन्य बुनियादी संसाधनों की जरूरत होने पर इसकी जानकारी देने कहा।

बैठक में सभी अनुविभागीय अधिकारियों ने बताया कि उनके यहां सेटअप के अनुसार कंप्यूटर आपरेटर पद की स्वीकृति होने पर काम आसानी से होगा। मानपुर के एसडीएम ने पटवारियों की कमी की समस्या बताई। संभागायुक्त ने कहा कि  सभी समस्याओं को दूर करने उचित कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि राजस्व मामलों का समय पर निराकरण होना चाहिए। राजस्व संबंधी मामलों की समीक्षा के बाद पता चला है कि कुछ तहसीलों में अभी भी दो साल से ज्यादा समय से प्रकरण पेंडिंग हैं। ऐसे प्रकरणों को एक सप्ताह के भीतर निराकरण किया जाना चाहिए।

उन्होंने ऐसे तहसीलदारों को शो काज नोटिस जारी करने के निर्देश भी दिए। बैठक में कवर्धा कलेक्टर अवनीश शरण, बेमेतरा कलेक्टर शिखा राजपूत, राजनांदगांव कलेक्टर जयप्रकाश मौर्य, बालोद कलेक्टर रानू साहू, दुर्ग के अपर कलेक्टर संजय अग्रवाल के अलावा संभाग के सभी अनुविभागों के एसडीएम मौजूद थे। बैठक में संभागायुक्त ने कहा कि जिन लोगों ने नजूल पट्टे का नवीनीकरण करने आवेदन नहीं दिया है, उनके पट्टे निरस्त करने की कार्रवाई करें।