Breaking News

Top News

विधायक ने दिखाए कड़े तेवर, साफ कहा आवास योजना के हितग्राहियों को भटकाना बंद करें निगम प्रशासन

Share Now

 

 

126

शांति नगर में कमिश्नर को साथ लेकर पहुंचे वोरा, दिखाए हितग्राहियों के मकान। कच्चे मकान तोड़कर पक्के मकान बनाने वाले लोगों को नहीं मिली है पहली किस्त

सीजी न्यूज रिपोर्टर। दुर्ग

प्रधानमंत्री आवास योजना में निगम अफसरों की लापरवाही की शिकायत पर वोरा ने कड़ी आपत्ति जताई है। नागरिकों की शिकायत पर वोरा आज निगम कमिश्नर इंद्रजीत बर्मन को पीड़ित लोगों के घर लेकर पहुंचे। साफ कहा कि निगम अफसरों ने वार्ड 17 शांति नगर में कई लोगों के घर तोड़ दिए। पक्का निर्माण शुरू कराया, लेकिन निर्माण में खर्च हुई राशि की किश्त का भुगतान नहीं किया। इस मामले में वे सोमवार को कलेक्टर से मिलेंगे। वोरा ने साफ कहा है कि दिवाली के पहले हर हाल में हितग्राहियों को पहली किश्त का भुगतान होना चाहिए।   

आज सुबह शांति नगर वार्ड 17 के निवासियों ने विधायक अरुण वोरा से इस मामले की शिकायत की। नागरिकों ने बताया कि शांति नगर में 248 परिवारों को आवास योजना के लिए चिन्हित किया गया जिसमें से 103 को पात्र घोषित किया गया। निगम के नोडल अधिकारियों ने 35 मकान तोड़कर पक्का निर्माण शुरू कराया लकिन छज्जा लेवल तक निर्माण होने के बाद भी पहली किश्त की राशि नहीं दी।

रोजी-मजदूरी कर परिवार का जीवनयापन करने वाले गरीबों को किराए के मकान में रहना पड़ रहा है। बिल्डिंग मटेरियल और लेबर पेमेंट की राशि न मिलने से लोग परेशान हैं। कई नागरिकों ने बताया कि पात्रता के बावजूद अफसरों ने निर्माण की अनुमति नहीं दी। मौके पर कमिश्नर के साथ पहुंचे वोरा ने कहा कि गरीबों का आशियाना बनाने की योजना में लापरवाही और भेदभाव का रवैया बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। जिन लोगों ने निगम से सहमति मिलने के बाद निर्माण शुरू किया है, उन्हें सड़क पर भटकने नहीं दिया जाएगा। इस दौरान वरिष्ठ पार्षद अब्दुल गनी, धीरज बाकलीवाल, भोला महोबिया, पूर्व पार्षद निर्मला साहू मौजूद थे।

वोरा के हस्तक्षेप से नहीं टूटे गरीबों के मकान  

125

धमधा नाका अंडरब्रिज निर्माण के लिए सिकोलाभाठा बस्ती के 7 मकानों को तोड़ने रेलवे का अमला आज दल-बल के साथ पहुंचा। स्थानीय पार्षद शंकर ठाकुर सहित इन परिवारों के आग्रह पर विधायक अरुण वोरा मौके पर पहुंचे। रेल्वे अधिकारियों चर्चा करते हुए वोरा ने कहा कि दिवाली त्योहार को देखते हुए शिफ्टिंग के लिए 29 तारीख तक समय दें। उन्होंने निगम आयुक्त से सातों परिवारों को आईएचएसडीपी आवास में आवास मुहैया कराने के निर्देश भी दिए।