Breaking News

Top News

सड़कों को बनाएं गड्‌ढा मुक्त, सड़क-पुल निर्माण की क्वालिटी पर नियंत्रण रखेगा निरीक्षण दल – ताम्रध्वज

Share Now

  • सभी जिलों में इंडोर स्टेडियम का इस्टीमेट बनाने दिए निर्देश
  • क्वालिटी खराब होने पर अफसरों की जिम्मेदारी तय होगी 

151.jpg

पीडब्लूडी मंत्री ताम्र्ध्वज साहू ने पीडब्लूडी की सभी सड़कों को गड्‌ढा मुक्त करने कड़े निर्देश दिए हैं। विभाग के कार्यपालन अभियंताओं की राज्य स्तरीय समीक्षा बैठक में कहा कि सड़कों की मरम्मत और निर्माण कार्यों में गति लाने का काम तेजी से पूरा होना चाहिए। उन्होंने मरम्मत और निर्माण कार्यों में गुणवत्ता का ध्यान रखने सख्त निर्देश दिए। ताम्रध्वज ने साफ कहा कि क्वालिटी को लेकर अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की जाएगी।

सड़क और पुल निर्माण कार्यों के प्राक्कलन की स्थिति की समीक्षा करते हुए पीडब्लूडी मंत्री ने कहा कि प्रदेश में लगभग 6000 किलोमीटर लंबी सड़कें वर्तमान में परफॉर्मेंस गारंटी में हैं। ऐसी सड़कों का निरीक्षण कर ठेकेदारों से जरूरी मरम्मत कार्य कराने कड़े निर्देश दिए। ताम्रध्वज ने निर्माण कार्यों की गुणवत्ता पर नियंत्रण रखने एक निरीक्षण दल का गठन करने के निर्देश भी दिए। यह दल निर्माण कार्यों का आकस्मिक निरीक्षण कर विस्तृत प्रतिवेदन शासन को प्रस्तुत करेगा।

ताम्रध्वज ने कड़े शब्दों में चेतावनी देते हुए कहा कि निर्माण कार्यों में होने वाली लापरवाही के लिए विभागीय अधिकारियों की जिम्मेदारी तय की जाएगी। उन्होंने कार्यपालन अभियंता स्तर पर 20 लाख रूपए तक निर्माण कार्य सामान्य निविदा से करने और पंजीकृत बेरोजगार इंजीनियरों को काम देने के निर्देश दिए। सभी कार्यपालन अभियंताओं को जिला स्तर पर नियमित बैठक लेने और विभागीय कार्यों और उपलब्धियों के प्रचार-प्रसार पर जोर दिया ताकि विभाग के महत्वपूर्ण कार्यों की जानकारी आम नागरिकों तक पहुंच सके।

ताम्रध्वज ने खाली पड़ी शासकीय भूमि को व्यवसायिक बनाने वर्कप्लान बनाने और सभी जिलों में इंडोर स्टेडियम बनाने इस्टीमेट तैयार करने के निर्देश दिए। अपर मुख्य सचिव (लोक निर्माण) अमिताभ जैन ने सड़क सुरक्षा के संबंध में आवश्यक निर्देश दिए। सड़कों की मरम्मत और संधारण के लिए मैदानी अधिकारियों की व्यक्तिगत जिम्मेदारी तय करते हुए सड़कों में हुए गड्ढों का समतलीकरण, स्पीड ब्रेकर को लेकर निर्देश दिए।