Breaking News

Top News

निगम कमिश्नर ने पट्टा सर्वेक्षण टीम के कामकाज की जांच की, घर-घर जाकर पूछा जा रहा है पट्टा है या पट्टा खरीदा गया है?  

Share Now

शासन के निर्देश पर नगरीय निकायों में नजूल आवासीय भूमि में काबिज लोगों को जारी हुए पट्टे का सर्वेक्षण चल रहा है। नगर निगम के सभी 60 वार्डो में सर्वेक्षण कार्य किया जा रहा है। निगम कमिश्नर इंद्रजीत बर्मन ने आज कचहरी वार्ड के आनंद नगर और गुरू घासीदास वार्ड में पट्टा सर्वेक्षण कार्य का निरीक्षण किया। शासन के निर्देश पर सर्वे के लिए निगम के 43 कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है।जिला प्रशासन और निगम प्रशासन की टीम ने पट्टेधारियों का सर्वे शहरी आबादी में शुरू कर दिया है। शनिवार को निगम कमिश्नर ने वार्डों में जाकर पट्‌टा सर्वे कार्य का आकस्मिक निरीक्षण किया। पट्टाधारियों के पट्टा की जांच की। उन्होंने वार्ड निवासियों को बताया पट्टाधारियों के अलावा जिनके पास पट्टा नहीं है या पट्टा खरीदकर किसी जगह पर काबिज होने वाले लोगों का सर्वे किया जा रहा है।30 अक्टूबर तक शासकीय, नजूल, और निगम की जमीन पर काबिज लोगों का सत्यापन किया जाएगा। काबिज जमीन की नापजोख सभी नोडल अधिकारी कर रहे हैं। पट्टा सर्वे कार्य के बाद दावा-आपत्ति मंगाई जाएगी। दावा आपत्ति प्रक्रिय के तहत सात दिनों की सुनवाई का मौका दिया जाएगा। निरीक्षण के दौरान राजस्व विभाग के अधिकारी दुर्गेश गुप्ता, रवि मिश्रा, सिद्धांत शर्मा व अन्य कर्मचारी मौजूद थे।