Breaking News

Top News

रायपुर में हजरत फतेह शाह मजार-मस्जिद ट्रस्ट को हर महीने लाखों का नुकसान, विवाद सुलझाने वक्फ बोर्ड ने 7 सदस्यीय पर्यवेक्षक दल बनाया

Share Now

201.jpg

छत्तीसगढ़ राज्य वक्फ बोर्ड ने हजरत फतेह शाह मजार और मस्जिद ट्रस्ट विवाद के निबटारे के लिए 7 सदस्यीय पर्यवेक्षक दल का गठन किया है। यहां 125 दुकानें होने के बाद ट्रस्ट की आय काफी कम है। वक्फ सम्पत्ति की दुकानों पर काबिज किरायेदारों व कब्जेधारियों और प्रबंध कमेटी के बीच आपस में काफी विवाद की स्थिति होने के कारण वक्फ सम्पत्ति का लाभ नहीं मिल रहा है। बोर्ड के अध्यक्ष सलाम रिजवी ने विवाद के निराकरण के लिए 7 सदस्यीय पर्यवेक्षक दल बनाया है। पर्यवेक्षक दल के सदस्य वक्फ सम्पत्ति से संबंधित सभी विवादों का निपटारा करेंगे।

रिजवी ने वक्फ बोर्ड कार्यालय में बैठक बुलाकर इन संस्थाओं के साथ किरायेदारों व कब्जेधारियों के साथ विवाद सुलझाने, वक्फ सम्पत्ति की जर्जर स्थिति सुधारने, आय बढ़ाने और वक्फ सम्पत्ति से संबंधित सभी विवादों के निराकरण के बारे में चर्चा की। बताया गया कि वक्फ सम्पत्ति की हालत दिनोंदिन खराब हो रही है। इससे सम्पत्ति का विकास नहीं हो पा रहा। किरायेदारी को लेकर कई साल से न्यायालयीन प्रकरणों के विवाद के कारण वक्फ सम्पत्ति को हर माह लाखों रूपए का नुकसान हो रहा है।
विवाद सुलझाने पर्यवेक्षक दल बनाया गया है। पर्यवेक्षक दल में रिटायर्ड जिला न्यायाधीश सैयद इनामुल्लाह शाह, अब्दुल हमीद हयात, हाजी नईम अख्तर, अधिवक्ताओं में सैयद जाकिर अली, एसके फरहान, सैयद सादिक अली और चार्टर्ड एकाउंटेंट अकरम सिद्दीकी शामिल हैं। पर्यवेक्षक दल हजरत फतेह शाह मजार और मस्जिद ट्रस्ट कमेटी पुलिस लाइन टिकरापारा रायपुर के अंतर्गत आने वाली वक्फ सम्पत्ति की सुरक्षा, व्यवस्था, विकास, निर्माण, दस्तावेजों का अवलोकन, वक्फ सम्पत्ति के किरायेदारों व कब्जेधारियों से चर्चा कर संबंधित विवाद का निराकरण करेंगे।

दुकानों में काबिज लोगों से नवीन किराया अनुबंध कर किराया राशि का निर्धारण, किरायेदार से संबंधित उन प्रकरणों में भी आगे की कार्रवाई करेंगे जो न्यायालयों में लंबित हैं या निराकृत हो चुके हैं। कई दुकानें आज तक खाली पड़ी हैं। इन दुकानों को नए किरायेदारों को आवंटित करने की कार्रवाई की जाएगी। वक्फ सम्पत्ति की आय बढ़ाने और उसकी जर्जर स्थिति सुधारने के संबंध में भी पर्यवेक्षक दल के सदस्य काम करेंगे।

सभी कार्रवाई वक्फ बोर्ड के अनुमोदन से की जाएगी। पर्यवेक्षक दल के सहयोग के लिए वक्फ बोर्ड से मोहम्मद तारिक अशरफी को कोआर्डिनेटर नियुक्त किया गया है। बैठक में पर्यवेक्षक दल के सदस्यों के अलावा छत्तीसगढ़ वक्फ बोर्ड के सदस्य सैयद फैसल रिजवी, मस्जिद ट्रस्ट हाजी मीर कादिर अली, छत्तीसगढ़ राज्य वक्फ बोर्ड के मुख्य कार्यपालन अधिकारी डॉ. एस.ए.फारूकी, मो. रऊफ मौजूद थे।