Breaking News

Top News

6 माह पहले 90 दिनों तक मनरेगा का काम किया, अब तक नहीं मिली मजदूरी, कलेक्टोरेट में धरने पर बैठे मजदूर

Share Now

236

मनरेगा योजना के तहत गांवों में विकास कार्य कराने के बावजूद मजदूरों को मजदूरी का भुगतान न होने पर आज मजदूरों ने कलेक्टोरेट में धरना दिया। जिला पंचायत के कृषि स्थायी समिति के सभापति मुकेश बेलचंदन और अमिता बंजारे के नेतृत्व में निकुम और खुरसुल गांव के मजदूरों ने कलेक्टोरेट परिसर में धरना देते हुए मजदूरी का भुगतान दिवाली के पहले  करने की मांग की है।

बेलचंदन ने बताया कि निकुम और खुरसुल में वर्ष 2019-20 के दौरान मनरेगा योजना के तहत नाली, तालाब पिचिंग, तालाब गहरीकरण के कार्य कराए गए। इन गांवों के 65 मजदूरों ने 90 दिनों तक काम किया लेकिन मजदूरी का भुगतान आज तक नहीं किया गया। भुगतान न होने से मजदूरों को जीवनयापन करने में परेशानी हो रही है।

बेलचंदन ने कहा कि दिवाली त्यौहार सामने होने के बावजूद मजदूर खरीदारी नहीं कर पा रहे हैं। बेलचंदन ने कहा है कि मनरेगा योजना के तहत सभी मजदूरों को आर्थिक संकट का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कलेक्टर से दिवाली के पहले सभी 65 मजदूरों को तत्काल मजदूरी का भुगतान कराने की मांग की है।