Breaking News

Top News

नवदृष्टि फाउंडेशन ने कराया एक और नेत्रदान

Share Now

11-1.jpeg

स्टेशन रोड स्थित रघुवीर मिष्ठान भण्डार के संचालक विजय भाई आढ़तिया (64) का निधन होने पर परिवारजनों ने नेत्रदान का निर्णय लेकर दो परिवारों को नई रौशनी देने का अनुकरणीय प्रयास किया है। विजय भाई के निधन का समाचार मिलते ही परिवार के सदस्य जयंती भाई व प्रकाश आढ़तिया ने नेत्रदान का निर्णय लिया। नवदृष्टि फाउंडेशन के सदस्यों को जानकारी दी। इसके बाद जिला चिकित्सालय के सहायक नेत्र अधिकारी अजय नायक, अरुण सिंह व शत्रुघ्न सिन्हा ने कॉर्निया कलेक्ट कर रायपुर मेडिकल कॉलेज में सुरक्षित पहुंचाया।

विजय भाई की पत्नी वीणा बेन, पुत्र शैलेश आढ़तिया, पुत्री दीपाली ने भी नेत्रदान के लिए सहमति दी। फाउंडेशन के कुलवंत भाटिया ने बताया कि पूर्व में भी आढ़तिया परिवार के गोपा भाई का नेत्रदान संस्था के माध्यम से किया गया। इसके अलावा आढ़तिया परिवार के 50 सदस्य नेत्रदान की घोषणा कर चुके हैं और परिवार का हर सदस्य निरंतर रक्तदान करता है। सामाजिक कार्यों में हमेशा अग्रणी रहता है।

राज आढ़तिया ने नेत्रदान को लेकर कहा है कि हर सकारात्मक कार्य की शुरुवात स्वयं से करना चाहिए। पूर्व में भाई गोपा व अब अपने चाचा का नेत्रदान कर रहे हैं। फाउंडेशन के हरमन दुलाई ने कहा नव दृष्टि फाउंडेशन को राज आढ़तिया व उनके परिवार से हर स्तर पर मदद मिलती रही है। नेत्रदान के दौरान आढ़तिया निवास पर बड़ी संख्या में समाज के लोग उपस्थित थे।

भावभीनी श्रद्धांजलि दी
नव दृष्टि फाउंडेशन के सदस्यों ने दिवंगत आत्मा की शांति के लिए भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित कीहै। श्रद्धांजलि अर्पित करने वालों में फाउंडेशन के सदस्य अनिल बल्लेवार, कुलवंत भाटिया, राज आढ़तिया, हरमन दुलई, प्रभु दयाल उजाला, मुकेश आढ़तिया, मोनिंदर सिंह (शालू ), प्रवीण तिवारी, धर्मेंद्र शाह, गोपी रंजन दास, प्रमोद बाघ, राजीव अग्रवाल, संतोष राजपुरोहित, रितेश जैन, चेतन जैन ,पियूष मालवीय, मुकेश राठी, जितेंद्र हसवानी शामिल हैं।