Breaking News

Top News

हजारों एपीएल राशन कार्डों में त्रुटियां, आम जनता परेशान, वोरा ने अफसरों को जवाबतलब किया  

Share Now

20-1

दुर्ग। एपीएल वर्ग के राशन कार्डों में बेशुमार त्रुटियां होने की शिकायत मिलने पर आज विधायक अरूण वोरा अफसरों पर बिफर पड़े। वोरा ने फूड विभाग पहुंचकर अफसरों को जवाबतलब किया। वोरा ने साफ कहा कि आम जनता को त्रुटिरहित राशन उपलब्ध कराया जाए। राशन कार्ड तैयार करने और इसके वितरण में गड़बड़ी नहीं होना चाहिए। वोरा ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस सरकार ने गरीबी रेखा से ऊपर रहने वाले सामान्य परिवार को 10 रुपए प्रति किलो की दर से चावल देने की घोषणा के तहत राशन कार्ड उपलब्ध कराया है। एपीएल कार्ड वितरण में नगर निगम और खाद्य विभाग के कार्यालय में आपसी तालमेल नहीं है। कार्ड वितरण व कार्ड में दर्ज किए गए नाम में त्रुटि होने के कारण लोग नगर निगम और फूड आफिस के चक्कर काट रहे हैं।

20-2उन्होंने कहा कि 26 हजार 3 सौ कार्ड में से 21 हजार 4 सौ 26 कार्ड ही निगम कार्यालय में वितरण के लिए पहुंचे हैं। शेष कार्ड न पहुंचने से हितग्राही नगर निगम के चक्कर काट रहे हैं। उपभोक्ताओं को सही जवाब नहीं मिल रहा है। सस्ते दर पर चावल योजना में शुरुआती दौर में ही अफरातफरी मची है और प्रशासनिक अफसर पूरी तरह बेखबर हैं। कार्ड में नाम पता दर्ज करने में हुई गलतियों से हितग्राही परेशान हैं।

कांग्रेस नेताओं ने वोरा से शिकायत करते हुए बताया कि कई कार्ड़ों मे परिवार का नाम गायब है तो कई जगह नामों में त्रुटि है। नगर निगम पहुंचने पर सुधार के लिए खाद्य विभाग भेजा जाता है। महिलाओं के नाम पर कार्ड बनाए गए हैं। बुजुर्गों और महिलाओं को सुधार कार्य के लिए भटकना पड़ रहा है। सुधार कार्य के लिए फूड आफिस में पहुंचे विधायक ने लोगों के भारी आक्रोश को देखकर खाद्य नियंत्रक सीपी दीपांकर से व्यवस्था बनाने कहा। उन्होंने पूछा कि इतन ज्यादा संख्या में कार्डो में त्रुटि क्यो हुई है।

संतोषजनक जवाब ना मिलने पर वोरा ने कलेक्टर से चर्चा की। वोरा ने नगर निगम व खाद्य विभाग में समन्वय कर ऐसी व्यवस्था करने कहा है जिससे आम जनता को सुगमता से एपीएल कार्ड मिल सके। खाद्य विभाग में राशन कार्ड की शिकायत लेकर पहुंचे लोगों के साथ निगम सभापति राजकुमार नारायणी, राजेश शर्मा, प्रकाश गीते, अभिषेक बोरकर, वरिष्ठ नागरिक संघ के सचिव लालचंद जैन सहित कई  वार्डों की महिलाएं मौजूद थी।