Breaking News

Top News

रात भर जागते रहे ये नौजवान … ताकि… मौत के बाद भी दुनिया देखती रहे मां की आंखे

Share Now

21-2

बुधवार की रात इस शहर में जो कुछ हुआ, उसकी मिसाल कम ही देखने मिलती है। दुर्ग शहर में नेत्रदान के जरिये दृष्टिहीन लोगों की आंखों में रौशनी भरने वाले नवदृष्टि फाउंडेशन के नौजवानों ने अनुकरणीय काम किया। पहले कई लोगों का नेत्रदान करा चुके फाउंडेशन के मेंबर रात भर जागते रहे। नेत्रदान के लिए संकल्पित ये नौजवान रात 2 बजे तक स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों, कर्मचारियों से संपर्क साधने फोन खटखटाते रहे। कोशिश बस यही थी कि … मौत के बाद भी मां की आंखें दुनिया को देखती रहे।  

21-3

इंद्रजीत कौर, जिनकी मृत्यु के बाद देर रात परिवार के सदस्यों ने नेत्रदान कराया।

हुआ यूं कि बुधवार की रात 11 बजे चावला किराया भंडार के संचालक प्रिंस चावला व अमरजीत चावला की मां इन्द्रजीत कौर (65 वर्ष) का निधन हो गया। निधन के बाद उन्होंने नवदृष्टि फाउंडेशन के माध्यम से नेत्रदान के लिए नवदृष्टि फाउंडेशन से संपर्क साधा। चावला परिवार के करीबी वेलकम डेकोरेटर्स के सुरजीत सलूजा ने इंद्रजीत कौर के पुत्र अमरजीत, प्रिंस, पुत्र वधु सोनी, पुत्री पायल से बातचीत की। इसके बाद नेत्रदान के लिए सभी की सहमति से जिला अस्पताल के नेत्र विभाग के कर्मचारियों को फोन किया गया।

लगातार फोन करने के बाद भी सम्बंधित कर्मचारियों ने फ़ोन नहीं उठाया तब रात २ बजे फाउंडेशन के कुलवंत भाटिया ने सीएमएचओ डॉ. गंभीर सिंह ठाकुर को फ़ोन पर जानकारी देकर नेत्रदान के लिए मदद मांगी। डॉ ठाकुर ने तत्काल नेत्रदान कराने की व्यवस्था करते हुए जिला अस्पताल की टीम को आकाश नगर स्थित चावला निवास रवाना किया। नेत्र सहायक अधिकारी अजय नायक व शत्रुहन सिन्हा ने रात 3 बजे कॉर्निया कलेक्ट किया और नेत्रदान की प्रक्रिया पूरी की।

इस दौरान नवदृष्टि फाउंडेशन के कुलवंत भाटिया, चेतन जैन व परिवार के सदस्य उपस्थित रहे। कुलवंत ने आधी रात को नेत्रदान की सुविधा मुहैया कराने के लिए सीएमएचओ डॉ गंभीर सिंह ठाकुर को धन्यवाद दिया। सहायक नेत्र अधिकारी अजय नायक व शत्रुहन सिन्हा को धन्यवाद दिया गया। फाउंडेशन के सदस्यों ने चावला परिवार व सुरजीत सलूजा को भी साधुवाद दिया। फाउंडेशन के प्रमुख सदस्य राज आढ़तिया अमरावती में होने के बावजूद रात भर फ़ोन पर नेत्रदान हेतु प्रयास करते रहे।

भावभीनी श्रद्धांजलि दी
नव दृष्टि फाउंडेशन के सदस्य अनिल बल्लेवार, कुलवंत भाटिया, राज आढ़तिया, प्रभुदयाल उजाला, मुकेश आढ़तिया, प्रवीण तिवारी, धर्मेंद्र शाह, हरमन दुलई, गोपी रंजन दास, प्रमोद बाघ, राजीव अग्रवाल, संतोष राजपुरोहित, रितेश जैन, चेतन जैन, पियूष मालवीय, मुकेश राठी, जितेंद्र हासवानी, खुर्शीद अहमद ,आकाश मसीह ,अरविन्द खंडेलवाल, सुजीत तांम्रकार, अनुराग तैलंग, मनदीप सिंह भाटिया ,अनिल जायसवाल, मुकेश यादव, मोनिंदर सिंह (शालू ), हरविंदर सिंह, प्रफुल्ल जोशी, संजीव श्रीवास्तव, विवेक साहू, रणदीप सिंह, शैलेश कारिया, हरपाल सिंह ने इंद्रजीत कौर को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने चावला परिवार के फैसले की सराहना की है।

आप सबकी सेवाभावना को सलाम

रात 3 बजे हुए इस नेत्रदान के लिए जितनी सराहना चावला परिवार के सदस्यों और उनके करीबी लोगों की कम की जाए, उतनी कम है। वहीं, सीएमएचओ डा. गंभीर सिंह ठाकुर और जिला अस्पताल के नेत्र विभाग के कर्मचारियों ने भी अनूठे सेवा भाव के साथ देर रात इस काम को अंजाम दिया। नवदृष्टि फाउंडेशन के सदस्यों ने सेवाभाव और संकल्पशक्ति के साथ आधी रात तक जागकर यह पुनीत कार्य कराया। … आप सबको … आपकी संकल्प शक्ति को … सेवा भाव को… CGNEWS.COM का सलाम …