Breaking News

Top News

शर्मनाक!!!  सीएए का समर्थन पाने इतने घटिया हथकंडे !!! मिस्ड कॉल से ऐसे फिरकी ले रहे ???

Share Now

सीजी न्यूज डॉट कॉम

सिटी एमेंडमेंट एक्ट का समर्थन पाने के लिए कथित तौर पर एक पार्टी की आईटी सेल ने जो हथकंडे अपनाए हैं, उसकी कलई लगातार खुल रही है। गृहमंत्री अमित शाह ने देश के नागरिकों से सिटी एमेंडमेंट एक्ट यानी सीएए का समर्थन करने की अपील की है। शाह ने एक मोबाइल नंबर जारी किया है। देशवासियों से अपील की गई है कि इस नंबर पर मिस्ड कॉल के जरिये सीएए का समर्थन किया जा सकता है। समर्थन पाने के लिए इस तरीके पर सहमति और आपत्ति करने वालों के दसियों तर्क हो सकते हैं। लेकिन, घटिया तौर तरीके अपनाने के लिए बदनाम एक पार्टी के आईटी सेल ने इस बार भी घटिया तौर तरीकों का इस्तेमाल किया है। लोग इस नंबर पर फोन करते हैं और अनजाने में सीएए को  समर्थन मिल जाता है। सीएए का समर्थन पूरी तरह फर्जी होने के बावजूद कुछ दिनों में यह पार्टी दावा करेगी कि देश के करोड़ों लोगों ने सीएए का समर्थन किया है।  ।

सीएए का देश भर में लगातार बढ़ते विरोध के कारण घबराई इस पार्टी की आईटी सेल ने इस मुद्दे पर मिस्ड कॉल के जरिये समर्थन पाने का तरीका ढूंढा। समर्थन जुटाने के लिए निहायत घटिया हथकंडे अपनाए जा रहे हैं। खास बात ये है कि सोशल मीडिया के अलग-अलग प्लेटफार्मों में इन हथकंडों को लगातार उजागर किया जा रहा है।

राष्ट्रीय स्तर पर लगातार हार रही पार्टी की आईटी सेल के गोरखधंधों और फर्जीवाड़ों के कारण पार्टी की छवि पर कालिख लग रही है। सीएए लागू करने के बाद फर्जी तरीके से समर्थन पाने के लिए जिन घटिया हथकंडों को अपनाया है, उससे एक बात तय है कि देश भर में लोगों का समर्थन इस मुद्दे पर नहीं मिल रहा है। समर्थन न मिलने के कारण ही ये हथकंडे अपनाए जा रहे हैं।

सोशल मीडिया में लाखों लोगों की अलग अलग तस्वीरें लगाकर एक ही नंबर जारी किया गया है। हर तस्वीर के साथ अलग-अलग तरीका अपनाया गया है। सोशल मीडिया में यह प्रचार किया गया है कि इस नंबर पर कॉल कर सैक्स चैट किया जा सकता है। कई हॉट गर्ल्स की तस्वीरों के साथ यही नंबर जारी करते हुए कहा गया है कि लोग इस नंबर पर कभी भी कॉल कर सकते हैं। हालत ये है कि घर-घर जाकर शैंपू बेचने वाली महिलाओं से भी मिस्ड कॉल कराया जा रहा है। महिलाएं कहती हैं कि इस नंबर पर कॉल करो ताकि कंपनी वालों को पता चल जाए कि वे घरों में जाकर शैंपू बेच रही हैं। कांग्रेस पार्टी में सदस्य बनने के लिए भी इसी नंबर पर मिस्ड कॉल करने कहा गया है। सूत्र बता रहे हैं कि ऐसे लाखों तरीके ईजाद किए गए हैं। घटियापन की कोई हद ही तय नहीं की गई है।

मिस्ड कॉल से चलाया था फर्जी सदस्यता अभियान

भारतीय जनता पार्टी ने 2015-16 में मिस्ड कॉल देकर सदस्यता अभियान चलाने का प्रयोग किया था। दिए गए नंबर पर मिस कॉल करने पर कुछ देर बाद पार्टी के कंट्रोल रूम से फोन पर कुछ जानकारियां मांगी जाती थी। इसके बाद पार्टी की सदस्यता देने का दावा किया जाता था। इस मिस कॉल के जरिये भाजपा ने पूरी दुनिया में सबसे बड़ी पार्टी और सबसे ज्यादा सदस्य संख्या वाली पार्टी होने का दावा किया।

मगर, हाल ही में जब इन सदस्यों की खोज खबर ली गई तो पता चला कि करोड़ों लोगों के नाम पते फर्जी पाए गए। खुलासा हुआ कि फर्जी तरीके से मिस कॉल किए गए और फर्जी सदस्यता अभियान चलाकर दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी बनने का बेबुनियाद दावा किया गया। अब यही फर्जी तरीका सीएए यानी सिटीजन एमेंडमेंट एक्ट का समर्थन पाने के लिए किया जा रहा है।