Breaking News

Top News

बार-बार नोटिस से परेशान पोटिया के सैकड़ों लोगों ने विधायक से गुहार लगाई, वोरा बोले किसी भी परिवार को नहीं हटाया जाएगा   

Share Now

– वोरा ने नगरीय प्रशासन विभाग की सेक्रेटरी पी. अलरमेलमंगई डी से फोन पर चर्चा की

– कलेक्टर को पत्र लिखकर पोटिया बस्ती के लोगों को हटाने की बजाय उसी जगह पर आवासीय योजना की मंजूरी देने कहा

सीजी न्यूज डॉट कॉम

पोटिया बस्ती के सैकड़ों परिवारों को बस्ती से हटाने की प्रशासनिक तैयारी पर रोक लगाने की मांग करते हुए स्थानीय नागरिक आज विधायक निवास पहुंचे। विधायक अरूण वोरा से गुहार लगाते हुए बस्ती के नागरिकों ने कहा कि वे 45 साल से पोटिया बस्ती में निवास कर रहे हैं। प्रशासन बस्ती के परिवारों को हटाने की तैयारी कर रहा है। उन्होंने विधायक अरूण वोरा ने समस्या सुनने के बाद साफ कहा कि किसी भी परिवार को उनके निवास से नहीं हटाया जाएगा।

वोरा ने इस मामले में नगरीय प्रशासन विभाग की सचिव पी अलरमेलमंगई डी से फोन पर चर्चा करते हुए कहा कि पोटिया के 580 परिवारों को किसी दूसरे स्थान पर विस्थापित न किया जाए। वोरा ने कहा कि गरीबों के हितैषी प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दुर्ग प्रवास के दौरान कह चुके हैं कि किसी भी परिवार को उजाड़ा नहीं जाएगा। मुख्यमंत्री की भावनाओं के अनुरूप पोटिया बस्ती के लोगों को विस्थापित नहीं किया जाना चाहिए।

वोरा ने नगरीय प्रशासन विभाग की सचिव से कहा कि सरकार की आवासीय योजनाओं के तहत पोटिया में रहने वाले परिवारों को वहीं पर बसने दिया जाए। किसी भी परिवार को पोटिया से हटाने की कार्रवाई नहीं होना चाहिए। वहां रहने वाले लोगों को सरकार की आवासीय योजनाओं का फायदा दिया जाए। चर्चा के बाद वोरा ने बस्ती के नागरिकों को आश्वस्त करते हुए कहा कि पोटिया बस्ती के किसी भी परिवार को नहीं हटाया जाएगा।

इससे पहले पोटिया वार्ड 54 के करीब 3 सौ से ज्यादा नागरिकों ने विधायक अरूण वोरा से बताया कि प्रशासन की ओर से कई बार बस्ती से हटाने की नोटिस जारी हो चुकी है। इसके कारण सभी लोग डरे हुए हैं। वार्ड के नागरिक एस देशलहरे, अश्वनी जांगड़े, केके मसीह, नारद साहू, देवेंद्र टंडन ने कहा कि प्रशासन की बार-बार नोटिस से बस्ती की महिलाएं, बुजुर्ग और बच्चे सहम जाते हैं। इस समस्या का स्थायी समाधान होना चाहिए। वोरा ने बस्तीवासियों से कहा कि पोटिया निवासियों को किसी भी तरह की परेशानी नहीं होने देंगे। इस संबंध में कलेक्टर और निगम कमिश्नर से भी चर्चा करेंगे।

बस स्टैंड की जगह बदलें प्रशासन  

वोरा ने मौके पर मौजूद निगम के ईई मोहनपुरी गोस्वामी से कहा है कि पोटिया में प्रस्तावित बस स्टैंड की जगह बदलकर बस्ती के लोगों को राहत दिया जाना चाहिए। बस स्टैंड बनाने के लिए पोटिया के नागरिकों को हटाना उचित नहीं है। उन्होंने कहा कि प्रस्तावित बस स्टैंड को कुछ दूर पर शिफ्ट किया जा सकता है।