Breaking News

Top News

विनोद साव के व्यंग्य-संग्रह ‘धराशायी होने का सिलसिला’ का विमोचन

Share Now

सीजी न्यूज डॉट कॉम

विगत दिनों छत्तीसगढ़ साहित्य महोत्सव के रायपुर पुस्तक मेले में ‘हिन्दी के चर्चित व्यंग्यकार विनोद साव के नये व्यंग्य संग्रह ‘धराशायी होने का सिलसिला’ का विमोचन हुआ। पुस्तक का विमोचन व्यंग्य-यात्रा दिल्ली के संपादक व जाने माने व्यंग्यकार प्रेम जनमेजय ने किया। इस अवसर पर विमर्श सत्र के दौरान ‘व्यंग्य लेखन : कमजोर होती धार और साहस का संकट’ विषय पर सार्थक चर्चा हुई। डॉ प्रेम जनमेजय ने मुख्य वक्तव्य दिया। उनके अलावा गुलबीर सिंह भाटिया, डा. महेंद्र कुमार ठाकुर सहित अन्य लेखकों ने चर्चा में हिस्सा लिया। कार्यक्रम का संचालन डा.सुधीर शर्मा ने किया। व्यंग्य पाठ सत्र में व्यंग्य रचनाओं के पाठ के बाद बिलासपुर के कलेक्टर डा.संजय अलंग और त्रिलोक महावर ने अपनी कविताओं का पाठ भी किया। इस मौके पर डॉ.स्नेहलता पाठक, रवि श्रीवास्तव, विनोद साव, गिरीश पंकज विशेष रूप से उपस्थित थे।