छत्तीसगढ़ शासन द्वारा गठित राज्य स्तरीय फेक न्यूज नियंत्रण एवं विशेष मॉनिटरिंग सेल ने ‘कोरोना अलर्ट‘ के नाम से पोस्ट की जा रही फेक न्यूज को संज्ञान में लिया है। व्यापक जनहित में अहितकारी मानते हुए ऐसी खबर के प्रकाशन, प्रसारण और फारवर्ड करने से बचने की सलाह दी गई है। रायपुर के कलेक्टर ने इसकी पुष्टि की है कि ‘कोरोना अलर्ट‘ खबर पूरी तरह फेक है। यह पोस्ट भ्रामक है। इलेक्ट्रॉनिक मीडिया, प्रिंट मीडिया व सोशल मीडिया से कलेक्टर ने अपील करते हुए कहा है कि फेक खबर को न दिखाया जाए। इसका प्रसार न किया जाए। उन्होंने कहा है कि इस तरह के फेक न्यूज पोस्ट करने वालों की शिकायत राज्यस्तरीय समिति के ई-मेल आईडी fakenews.shikayat@gmail.com पर भेजी जा सकती है। मॉनीटरिंग सेल ऐसे मामलों की जांच के बाद आपराधिक प्रकरण दर्ज कराएगी।