Breaking News

Top News

सरकारी स्कूलों का वार्षिक कैलेंडर जारी, कोर्स को 10 यूनिट में बांटकर हर महीने की पढ़ाई का टार्गेट तय, जनवरी तक कोर्स पूरा कराएंगे, फरवरी और मार्च में दो बार रिवीजन  

Share Now

सीजी न्यूज रिपोर्टर

स्कूल शिक्षा विभाग ने शिक्षा सत्र के लिए वार्षिक शैक्षिक कैलेंडर निर्धारित कर दिया है। हरेक कक्षा के कोर्स   को 10 यूनिटों में बांटकर हर माह निर्धारित पढ़ाई पूरी कराई जाएगी। फरवरी माह के पहले हफ्ते तक कोर्स पूरा कराने का टार्गेट दिया गया है। इसके बाद कोर्स का रिवीजन होगा। अप्रैल के पहले या दूसरे हफ्ते में वार्षिक परीक्षा या राज्य स्तरीय आकलन किया जाएगा। स्कूल शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव ने सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को कैलेंडर के अनुसार समय-सीमा में पढ़ाई और अन्य शैक्षणिक गतिविधियां कराने के निर्देश दिए हैं। शैक्षणिक कैलेंडर में कक्षा पहली से लेकर आठवीं तक हर माह आकलन भी किया जाएगा।

ये है हर माह का टार्गेट

जून – सर्वेक्षित बच्चों का कक्षा में शत प्रतिशत नामांकन कराने का लक्ष्य। शिक्षकों के लिए आवश्यक क्षमता विकास, विद्यालय प्रबंध समिति का गठन कर बैठक बुलाने और निशुल्क पाठ्यपुस्तक और गणवेश वितरण के अलावा वृक्षारोपण की तैयारी की जाएगी।
जुलाई – इकाई एक और दो की पढ़ाई और प्रथम सावधिक आकलन किया जाएगा। 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस का आयोजन होगा। मुंशी प्रेमचंद की जयंती पर साहित्य कार्यक्रम होगा।
अगस्त – पाठ्यक्रम की इकाई तीन से चार का अध्यापन और युवा क्लब का गठन के साथ द्वितीय सावधिक आकलन किया जाएगा। इंस्पायर अवार्ड योजना के अन्तर्गत प्रदर्शनी, स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाया जाएगा। उच्च प्राथमिक स्तर से उच्चतर माध्यमिक स्तर के लिए विज्ञान सेमिनार और विज्ञान प्रदर्शनी लगाई जाएगी।
सितम्बर – में पाठ्यक्रम की इकाई पांच की पढ़ाई कराई जाएगी। तीसरा सावधिक आकलन करने के साथ त्रैमासिक परीक्षा होगी। पालकों के सामने परीक्षा परिणाम की घोषणा होगी। शिक्षक दिवस, विश्व साक्षरता दिवस और विकासखंड, जिला व क्षेत्रीय स्तर पर खेलकूद प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी।

अक्टूबर – पाठ्यक्रम की इकाई छह का अध्यापन और चतुर्थ सावधिक आकलन के साथ गांधी जयंती, शाला में प्रथम ग्राम सभा, कबाड़ से जुगाड़ प्रतियोगिता, स्कूल स्तरीय ओलम्पियाड, विभिन्न खेलकूद प्रतियोगिता राज्य और राष्ट्रीय प्रतियोगिता होगी। उच्चतर प्राथमिक से उच्च माध्यमिक स्तर के लिए राज्य स्तरीय विज्ञान सेमीनार या विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन भी किया जाएगा।
नवम्बर – एक से 7 नवम्बर तक संकुल स्तर पर ओलम्पियाड, प्राथमिक स्तर पर प्रथम योगात्मक आकलन, पाठ्यक्रम की इकाई सात एवं आठ का अध्यापन, राष्ट्रीय साधन सह प्रावीण्य छात्रवृत्ति परीक्षा, बाल दिवस आयोजन और जिला स्तरीय ओलम्पियाड होगा।

दिसम्बर – पाठ्यक्रम की इकाई नौ का अध्यापन और शाला आधारित आकलन किया जाएगा। राष्ट्रीय भारतीय सैनिक महाविद्यालय परीक्षा के साथ-साथ अर्द्ध वार्षिक परीक्षा भी आयोजित होगी। इसी तरह मानव अधिकार दिवस एवं उर्जा संरक्षण दिवस के साथ-साथ शैक्षणिक भ्रमण का आयोजन भी किया जाएगा।
जनवरी – पाठ्यक्रम की इकाई दस का अध्यापन, अर्द्ध वार्षिक परीक्षा परिणाम की घोषणा के बाद परिणाम पालकों को सौंपा जाएगा। विद्यालय प्रबंध समिति एवं शिक्षक पालक संघ की बैठक का आयोजन भी होगा। इसी तरह पांचवा सावधिक आकलन, ओलम्पियाड और गणतंत्र दिवस का आयोजन किया जाएगा।
फरवरी – माह में सम्पूर्ण पाठ्यक्रम की पुनरावृत्ति के साथ विज्ञान दिवस का आयोजन किया जाएगा।

मार्च – पूरे पाठ्यक्रम का रिवीजन, छठवां सावधिक आकलन एवं द्वितीय योगात्मक आकलन किया जाएगा और विद्यालय प्रबंध समिति की बैठक आयोजित की जाएगी। इस माह वार्षिक परीक्षा के आयोजन की तैयारी भी की जाएगी।
अप्रैल – माह के प्रथम एवं द्वितीय सप्ताह में वार्षिक परीक्षा ली जाएगी। उत्तर पुस्किाओं का मूल्यांकन के साथ अम्बेडकर जयंती पर शाला में द्वितीय विशेष ग्राम सभा का आयोजन और 30 अप्रैल को विद्यालय प्रबंध समिति की बैठक ली जाएगी तथा परीक्षा परिणाम की घोषणा की जाएगी।

ग्रीष्मकालीन अवकाश – विद्यालयों में एक मई से 15 जून तक ग्रीष्मकालीन अवकाश रहेगा और समर कैम्प का आयोजन किया जाएगा।